क्रिकेटखेल
Trending

जमकर बरसी टेनिस स्टार सानिया, कहा-कोहली शून्य पर आउट हुए तो अनुष्का कैसे है जिम्मेदार?

नई दिल्ली : टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने हाल ही में इस बात कि आलोचना कि है कि क्रिकेट दौरों पर क्रिकेटरों की पत्नियों और महिला मित्रों को साथ जाने की अनुमति नहीं होनी चाहिए. इस बात से वो काफी भड़की हुई हैं और इस बात का उन्होंने जवाब भी दिया है. इस बारे में सानिया ने एक इवेंट में कहा कि यह रवैया उस मानसिकता से बना है, जिसमें महिलाओं को ताकत नहीं बल्कि ध्यानभंग करने वाली माना जाता है. सानिया से बयान से ये जाहिर होता है कि वो इस निर्णय के खिलाफ हैं.

इस बारे में टेनिस स्टार सानिया ने कहा यहां भारतीय आर्थिक मंच पर कहा कि लड़कियों को छोटी उम्र से ही खेलों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए. इसके अलावा जब उनसे विश्व कप में पाकिस्तानी टीम की हार के बारे में पूछा गया तो सानिया ने पूछा कि आखिर वह इसके लिए कैसे जिम्मेदार हैं. इसी बात को आगे लेजाकर उन्होंने ये भी कहा कि, ‘जब विराट शून्य बनाते हैं तो अनुष्का शर्मा को दोषी ठहराया जाता है, लेकिन इसका कहां से लेना देना है. इसका कोई मतलब नहीं बनता.’

उन्होंने कहा, ‘कई बार हमारी क्रिकेट टीम और कई अन्य टीमों में, मैंने देखा है कि पत्नियां या महिला मित्रों को दौरे पर जाने की अनुमति नहीं दी जाती, क्योंकि लड़कों का ध्यान भंग हो जाएगा.’ ‘इसका क्या मतलब है? महिलाएं ऐसा क्या करती हैं कि उससे पुरुषों का ध्यान इतना भंग हो जाता है?’ उन्होंने कहा, ‘देखिए यह चीज उस गहरी मानसिकता से आती है, जिसमें माना जाता है कि महिलाएं ताकत नहीं, बल्कि ध्यान भंग करती हैं.’

इतना ही नहीं, सानिया ने ये भी कहा कि यह साबित भी हो चुका है कि टीम में पुरुष खिलाड़ी तब बेहतर प्रदर्शन करते हैं जब उनकी पत्नियां और महिला मित्र और उनका परिवार उनके साथ रहता है, क्योंकि इससे जब वे कमरे में आते हैं तो वे खुशी महसूस करते हैं. उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी खाली कमरे में वापस नहीं आते, वे बाहर जा सकते हैं, डिनर कर सकते हैं. जब आपकी पत्नी या महिला मित्र आपके साथ होती हैं तो इससे आपको सहयोग मिलता है.’

Tags
Show More

Shivakanya

Just a tech-loving girl, who loves to program and write. 😉

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close